ढोल गवाँर सूद्र पसु नारी : Tiny Lamps लघु दीप – 20

ढोल गँवार शूद्र पशु नारी – शताब्दियों पुरानी रामचरितमानस प्रति में? क्या ‘शूद्र’ पर अत्याचारों का नरेटिव स्थापित करते समय इस चौपाई के साथ छेड़छाड़ की गयी?

Seven Chakra of Subtle Body षट्चक्र एवं ग्रन्थि भेद

योग में क्रमशः उन्नति के ६ या ८ स्तर कहे गये हैं। उसी का आन्तरिक रूप तन्त्र में मेरुदण्ड तथा उसके ऊपर मस्तिष्क के षट् चक्रों का भेदन है।

Painted Stork जांघिल। चित्र सर्वाधिकार: आजाद सिंह, © Ajad Singh, सरयू आर्द्र भूमि, माझा, अयोध्या, फैजाबाद, उत्तर प्रदेश, November 30, 2018

Painted Stork जांघिल

जांघिल का जीवनकाल २०-३० साल का होता है। ये नीड़ का निर्माण प्राय: कॉलोनी स्वरूप में करते हैं। अन्य बगुलों और पेलिकन के साथ भी नीड़ निर्माण कर लेते हैं।

Bathukamma Boddemma बतुकम्मा एवं बोड्डेम्मा – स्त्री पर्व : Tiny Lamps लघु दीप – 19

बतुकम्मा, बोड्डेम्मा। तेलंगाना-तेलगू क्षेत्रों में दो ऐसे पर्व हैं जो पूर्णत: स्त्रियों द्वारा मनाये जाते हैं, पुरुषों का योगदान सामग्री आदि के प्रबंध तक सीमित रहता है।

Birth Date of Rani Lakshmibai रानी लक्ष्मीबाई का जन्म १८२८ या १८३५ ग्रे. [ज्योतिषां ज्योतिरेकं तन्मे मनः शिवसङ्कल्पमस्तु]

मानक के रूप में जन्मतिथि है १९-११-१८३५ किन्तु एक और जन्मतिथि १९-११-१८२८ भी कही और मानी जाती है। फिर इन दोनों में सही जन्मतिथि कौन सी है?

Ego Self-centeredness Selflessness अहम, आत्मविमोहता एवं नि:स्वार्थता : सनातन बोध – 38

मनोवैज्ञानिक इसे मानसिक व्याधियों से जोड़ते हैं, प्रमुख हैं – व्यग्रता (anxiety) एवं अवसाद (depression), सबका केंद्र –आत्म आसक्ति जिसकी जड़ – अहम (ego) !