नर्मदा की वैज्ञानिक यात्रा

नर्मदा का मुहाना जहाँ वह अब समुद्र ये मिलती है, उस जगह से बहुत आगे तक एक और बहुत बड़ा भूखंड था जो भूगर्भीय हलचलों के कारण भारतभूमि से अलग होकर समुद्र में एक ओर चला गया जिसे हम आज का सेशल्स द्वीप समूह कहते हैं। “मेरी दृष्टि में विष्णु वैकुंठ के स्वामी मात्र नही…

अद्भुत निष्कर्ष

अद्भुत निष्कर्ष निकालने की त्वरा ठीक नहीं।   मनुष्य एक विचारवान प्राणी है। वह अपने विचारों को अभिव्यक्त भी कर सकता है और उन्हें कार्यरूप में परिणत भी। बुद्धि, विवेक का प्रयोग हमारे लिये जितना सामान्य है, उतना ही सामान्य है दुविधा में पड़ना। अधिकांश लोग कभी न कभी किसी न किसी संशय में पड़ चुके…