पाँच दिनों का पर्व समुच्चय

पाँच दिनों का पर्व समुच्चय है यह, जीवन की अर्थसिद्धि हेतु तत्पर हों, अप्रतिहत उद्योगी बनें। निश्चित नीति के साथ श्री, विजय, विभूति प्राप्ति के पथ पर अग्रसर हों।

आमुख
Spotted Dove फाक्ता। चित्र सर्वाधिकार: आजाद सिंह, © Ajad Singh, सरयू आर्द्र भूमि, माझा, अयोध्या, फैजाबाद, उत्तर प्रदेश, May 05, 2018

Spotted Dove / Eastern Spotted Dove / फाक्ता / पंडुक

Spotted Dove चित्रपक्ष के प्रसूति काल में मादा के कण्ठ स्थान पर दूध जैसा पदार्थ निस्‍सृत होता है जिसे बच्चे चोंच से पीते हैं। यह जल भी चूस-चूस कर पीता है।

पढ़ें

Ego Self-centeredness Selflessness अहम, आत्मविमोहता एवं नि:स्वार्थता : सनातन बोध – 39

मनोवैज्ञानिक इसे मानसिक व्याधियों से जोड़ते हैं, प्रमुख हैं – व्यग्रता (anxiety) एवं अवसाद (depression), सबका केंद्र –आत्म आसक्ति जिसकी जड़ – अहम (ego) !

पढ़ें

अपनी गाढ़ी कमाई को डाटा चोरों से बचायें

Protect yourself from data thieves! यदि आप अपनी निजी सूचनाओं के प्रति किञ्चित भी असावधान हुए तो उन्हें कोई भी उड़ा सकता है।  कुछ दिनों पहले एक बड़े अधिकारी ने अपना आधार नंबर सार्वजनिक रूप से ट्विटर पर देकर सब को चुनौती दी कि उनकी निजी सूचनायें कोई सार्वजनिक कर सके तो करे।

पढ़ें

Vishnu Puran विष्णुपुराण [पुराण चर्चा – 1, विष्णु दशावतार तथा बुद्ध – 9]

Vishnu Puran विष्णुपुराण तब अपना रूप प्राप्त कर चुका था जब परशुराम संज्ञा प्रचलित हो गयी थी, तथा राधा से सम्बंधित सम्प्रदाय अभी भविष्य के गर्भ में थे।

पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Post comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.